Home शायरी की डायरीरिश्तें-मोहब्बत-भावनाएं माँ पर शायरी हिंदी में – माँ की तारीफ में शायरी | Maa Par Shayari In Hindi

माँ पर शायरी हिंदी में – माँ की तारीफ में शायरी | Maa Par Shayari In Hindi

by Sandeep Kumar Singh

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है

माँ की तारीफ में शायरी – “माँ ” एक शब्द जिसमें सारा संसार व्याप्त है। संसार को चलाने वाली, बच्चों के लिए संसार से लड़ आने वाली, अपनी हर संतान को बराबर प्यार देने वाली, एक इन्सान की पहली गुरु। माँ जो सारी उम्र अपने परिवार के लिए समर्पित कर देती है। लेकिन उसके मन में कभी कोई लालच नहीं आता। अगर कोई लालच होता है तो बस इतना की उसकी संताने हर खुशियों का आनंद लें। हम सब अपनी माँ को बहुत प्यार करते हैं और माँ के लिए दुआ करते हैं।  इसलिए मैं “माँ” को समर्पित यह ‘ माँ पर शायरी संग्रह ” ( Maa Par Shayari In Hindi ) तैयार किया है।

माँ पर शायरी संग्रह- माँ की तारीफ में शायरी

माँ पर शायरी संग्रह

1.
हालातों के आगे जब साथ
न जुबाँ होती है,
पहचान लेती है ख़ामोशी में हर दर्द
वो सिर्फ “माँ” होती है।


2.
मांगने पर जहाँ पूरी हर मन्नत होती है,
माँ के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है।


3.
स्याही खत्म हो गयी “माँ” लिखते-लिखते
उसके प्यार की दास्तान इतनी लंबी थी।


4.
तेरे ही आँचल में निकला बचपन,
तुझ से ही तो जुड़ी हर धड़कन,
कहने को तो माँ सब कहते
पर मेरे लिए तो है तू भगवन।


5.
जब भी बैठता हूँ तन्हाई में मैं तो उसकी यादें रुला देती हैं,
आज भी जब आँखों में नींद न आये तो उसकी लोरियां
मुझे झट से सुला देती हैं।


6.
न जाने क्यों आज अपना ही घर मुझे अनजान सा लगता है,
तेरे जाने के बाद ये घर-घर नहीं खाली मकान सा लगता है।


7.
जब भी मेरे होठों पर झूठी मुस्कान होती है,
माँ को न जाने कैसे छिपे हुए दर्द की पहचान होती है,
सर पर हाथ फेर कर दूर कर देती है परेशानियाँ
माँ की भावनाओं में बहुत जान होती है।


8.
गम हो, दुःख हो या खुशियाँ
माँ जीवन के हर किस्से में साथ देती है,
खुद सो जाती है भूखी
पर और बच्चों में रोटी अपने हिस्से की बाँट देती है।

mothers day gifts for maa
Mother Day पर माँ को दीजिये खास तोहफा

9.
कैसे भुला दूँ मैं अपने पहले प्यार को
कैसे तोड़ दूँ उसके ऐतबार को,
सारा जीवन उसके चरणों में अर्पण कर दूँ
छोड़ दूँ उसकी खातिर मैं इस संसार को।


10.
एक दुनिया है जो समझाने से भी नहीं समझती,
एक माँ थी बिन बोले सब समझ जाती थी।


पढ़िए  :-  न जाने कहाँ तू चली गयी माँ :- माँ की याद में मार्मिक कविता


11.
उसकी दुवाओं में ऐसा असर है कि सोये भाग्य जगा देती है,
मिट जाते हैं दुःख दर्द सभी, माँ जीवन में चार चाँद लगा देती है।


12.
माँ ने तो उम्र भर संभाला ही था
हमें तो जिंदगी ने रुलाया है,
कहाँ से पड़ती काँटों की आदत हमें
माँ ने हमेशा अपनी गोद में सुलाया है।


13.
उसके रहते जीवन में कोई गम नहीं होता,
धोखा भले ही दे-दे ये दुनिया
पर माँ का प्यार कभी कम नहीं होता।


14.
न जाने क्यों आज के इंसान इस बात से अनजान हैं,
छोड़ देते हैं बुढ़ापे में जिसे वो माँ तो एक वरदान है।


15.
उसके आँचल में मुझे बहुत सुकून मिलता है,
जिंदगी खुशनुमा लगती है जीने का जुनून मिलता है।


16.
बिन बताये वो हर बात जान लेती है,
माँ तो माँ है
मुस्कुराहटों में गम पहचान लेती है।


पढ़िए :- माँ की याद में रुला देने वाली शायरी


17.
जब भी गंदा होता हूँ मैं वो साफ़ कर देती है,
अपनी हर संतान के साथ इन्साफ कर देती है,
नाराज होना तो फितरत होती है औलादों
माँ से जब भी माफ़ी मांगो हर खता माफ़ कर देती है।


18.
जन्नत है माँ के पैरों में क्यों छोड़ कहीं और जाऊं मैं
मेरे सिर पर साया बना रहे हर पल बस यही मनाऊं मैं।


19.
आजमा कर देखा जब जग में औरत कब बनती महान है,
भगवान से भी वो लड़ सकती इतनी प्यारी संतान है।

indian gift for maa
maa ke liye gift
maa ke liye gift
gift for mom

पढ़िए माँ पर और भी बेहतरीन रचनाएं :- 

आपको यह ” माँ पर शायरी – माँ की तारीफ में शायरी ” कैसा लगा हमें अवश्य बताएं, और जितना हो सके शेयर करे ताकि हमें प्रोत्साहन मिले ऐसी रचनाएँ लिखने का।

धन्यवाद।

आगे क्या है आपके लिए:

qureka lite quiz

आपके लिए खास:

40 comments

Avatar
Nikhil Malvi March 17, 2021 - 1:58 PM

sir,
me aap ki sayri ko apne college me bolna chahta hu plizz mujhe bhi moka dijiye ki me is sayri ko sabhi tk pohochau
dar lagra h kahi bolte huye ro n du pr puri kosis krunga ki kuchh galat na bol du
sir plizz mujhe is use krne dijiye

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh March 18, 2021 - 7:38 PM

आप इसे ऑनलाइन कहीं यूज़ नहीं कर सकते, अगर आपको यह कॉलेज में सुनानी है तो सुना सकते हैं लेकिन उसे रिकॉर्ड कर के कहीं अपलोड नहीं कर सकते।

Reply
Avatar
Sahil Maurya January 23, 2021 - 5:23 PM

Very best shayri because you write for mom , I love your shayri

Reply
Avatar
vishal prasad January 18, 2021 - 1:49 PM

sir i want to use your one shayari in my song for you tube…
so can i use it with credit and your blog link.

Reply
Avatar
Nandani January 22, 2020 - 8:31 PM

Meri to jindagi h Meri maa

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 16, 2019 - 12:07 AM

Please reoly me sir request 2 u pleasee

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh November 17, 2019 - 8:09 PM

link dijiye aur sath hi neeche mention kariye name. Shayari doosro tak pahunchane ke liye hi likhi jaati hai lekin ikhne wale ko credit hi na mile to kya wo dubara likhne ke liye motivate hoga….

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 16, 2019 - 12:04 AM

Sir please reply me ..
I request 2 u…

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 15, 2019 - 4:21 PM

Sorry sir but aapko lg rha hoga ki main aap se bahesh kr rha hoon but aapka ye kehna thik hai ki aap apna tik tok channel khol rgmhe ho inhi shayri ka but mujhe tho normal hi sayri khud se bolkar daalni hai tiktok pr …. Tho agar by chance meri tik tok video bhagwan ki kirpa se aage bhi bdi tho log tho mujhse ye jarur puchenge ki kya ye sayri aap khud se likhte ho tb tho main yahi kahunga ki nhi ye shayri maine net se dekh kr k bolta hoon…..

Sir Ansh pandit naam k ek tik tok user hai tho wo bhi sayri bolte hai but wo bhi tho kahi na kahi se dekhte honge…..

Jahan tk aapka kehna hai ki aapki shayri ka blog dena hai tho agar main blog na bhi du tho kya sirf link de skta hoon na …
Tb tho koi bhi problem nhi hogi na

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 14, 2019 - 4:00 PM

Sir main ek baat puccha na chahta hoon ki tik tok pr agar main sayri bolu bhi tho … Mujhe pta hai ki iss pr aapka hi copy right but bolne m kya hai ….. Q ki maine tik tok pr dekha hai ki agar koi shayri bolta hai tho waha bhi kahi na kahi se leta hoga but koi bhi kisi prkaar ki link ya blog ka naam nhi deta…. Please sir aap bura mt maana pr ye aapki sayri padne k liye aur dusro ko sunane k liye tho hai tho iss m kya problem hai…. Ye sb cheeze tho hoti hai ese bolne ke liye yahan tk hi kisi singer ka gaana agar koi gaaye tho singer ko koi problem ni hoti…. Please sir reply me and suggest me

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh November 14, 2019 - 4:24 PM

aapki baat sahi hai lekin problem ye hai ki hum khud ye shayari use karte hain video ke liye jo aap is link par dekh sakte hahin

https://www.youtube.com/channel/UC7zRE27vuIRJ_hczdBV_xig

iske alawa hum tiktok par bhi apna channel launch karne jaa rahe hain to aap waha humen follow kar use share kar sakte hain
koi aur query hai to aap bata sakte hain

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 13, 2019 - 10:26 PM

Okk thank u so much …. pr kya aap apna blog aur link send kr skte ho … Pleaseee

Reply
Avatar
Arjun Bisht November 12, 2019 - 3:51 PM

Agar main aapki sayri tik tok pr use karun tho koi problem tho ni hai na….?

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh November 12, 2019 - 8:36 PM

आपको ब्लॉग का नाम भी देना होगा साथ में वेबसाइट का लिंक भी…….जिससे ये पता लगे की ये शायरी कहाँ से ली गयी है……तभी आप इसे यूज कर सकते हैं….क्योंकि इस पर हमारा कॉपीराइट है

Reply
Avatar
Akhtar ali chhavani kushinagar January 24, 2019 - 7:56 PM

Thanks writer ji. I love maa

Reply
Avatar
अमित बाबू August 23, 2018 - 11:20 PM

माँ न होती तो ये संसार न चलती

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh August 25, 2018 - 11:34 AM

सही कहा अमित जी।

Reply
Avatar
sp May 10, 2018 - 8:19 AM

Nice shayari bhai

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 10, 2018 - 8:00 PM

धन्यवाद SP जी…

Reply
Avatar
Suraj surya May 6, 2018 - 8:55 AM

बहुत ही अच्छी रचना लिखा है आपने

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 9, 2018 - 8:52 PM

धन्यवाद सूर्या जी।

Reply
Avatar
Yogendra Sharma April 15, 2018 - 8:49 AM

Jai Ho mamy ji ki

Reply
Avatar
Pratima kumari February 16, 2018 - 10:27 AM

Bhagvan mere mom dad ko hamesha khush rakhna kyoki vo mujhe hamesha khush rakhte h

Reply
Avatar
Pratima kumari February 16, 2018 - 10:25 AM

I love my mom

Reply
Avatar
Birendar February 12, 2018 - 2:25 PM

माता पिता पर दो शब्द कहे सरमाता पिता का हमारे जीवन में क्या महत्व है?

Reply
Avatar
Ajitesh Somvanshi January 3, 2018 - 9:53 PM

Aap ki likha padh kar aksar rona aa jata h sir kya magical likhtey h aap
Miss uh maa?

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh January 3, 2018 - 9:56 PM

धन्यवाद Ajitesh Somvanshi जी….

Reply
Avatar
Sudhakar Gupta December 28, 2017 - 1:39 AM

बिना कहे जो सुन लेती है वो है माँ,
बिना देखे जो देख लेती है वो है माँ,
माँ से कुछ छुप नहीं सकता दोस्तों,
सारी तकलीफें छुपाकर बनती है माँ….
#माँ

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh December 28, 2017 - 11:52 AM

वाह सुधाकर गुप्ता जी। बहुत अच्छा लिखते हैं आप भी।

Reply
Avatar
Rajkumar December 18, 2017 - 6:25 PM

माँ सबकी जगह ले सकती है।परंतू माँ की जगह कोइ नहीं ले सकती है

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh December 19, 2017 - 12:08 PM

बिल्कुल सही कहा राजकुमार जी आपने।

Reply
Avatar
saloni Kashyap December 7, 2017 - 12:08 AM

Very nice
…. and I am always with my mamma

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh December 7, 2017 - 1:47 PM

And my Mamma is always with me ☺

Reply
Avatar
shri raj November 26, 2017 - 8:25 AM

Kay baat hai….meri bhavnaon ko sandeep ji ne shabdo me piroya hai……great great creation shall be one of best on MAA….sandeep is chhipe rustam,he has potential to become GULZAR

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh November 28, 2017 - 8:46 AM

श्री राज जी ये तो आपका बड़प्पन है। वर्ना कहाँ गुलजार जी और कहां हम। गुलजार जो तो खुद हमारे प्रेरणास्त्रोत हैं। सराहना के लिए धन्यवाद।

Reply
Avatar
balvant singh September 29, 2017 - 6:14 AM

दुर्भाग्यवश, शिक्षा के मामले में हमारा दृष्टिकोण असंतुलित है। हम सारा जीवन बाहरी संसार का ज्ञान पाने में तथा दूसरे लोगों के जीवन में ताक झाँक करने में लगा देते हैं। पर खुद के बारे में तथा अपने आतरिक संसार के बारे में जानने का कभी प्रयास नहीं करते।

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh September 29, 2017 - 7:57 AM

Balwant Singh जी अगर ऐसा हो जाये तो जीवन कितना आनंदमयी हो जाएगा। बस परेशानी ये है कि हर कोई ऐसा नहीं सोचता।

Reply
Avatar
Sumit Singh Chauhan March 15, 2018 - 11:42 PM

Bahut hi Sarahniya prayas h Sandeep ji. Apka ye blog Mamta or maa k prati logo ki tiraskrit bhawnao ko sudharne ka b kaarya kar raha hai. Mamta bhari maa ka saya ap or hum sab par hamesha bane rahe. Ap uhi likhte jaiye or mamta ko or b pravahit kijiye. Hamari shubhkamnaye apke sath hai. Love you maa.
Regards
Aaryan Thakur(Mahi)

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh March 16, 2018 - 10:41 AM

धन्यवाद सुमित जी। बस आप जैसे पाठक ही हमारी ऊर्जा हैं। जो हमे लिखने के लिए प्रेरित करती है। इसी तरह हमारे साथ बने रहें। धन्यवाद।

Reply
Avatar
papuram June 30, 2017 - 4:02 PM

Maa ke bina nahi reh Sakte Se Hai Main Kaun

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More