Home » शायरी की डायरी » समय पर दोहे :- समय का महत्त्व बताते दोहे | Samay Ka Mahatva Par Dohe

समय पर दोहे :- समय का महत्त्व बताते दोहे | Samay Ka Mahatva Par Dohe

by Sandeep Kumar Singh

समय पर दोहे , जिसमें आप पढ़ेंगे समय से संबंधित बेहतरीन दोहे । ऐसे दोहे जो आपने अब तक नहीं पढ़े होंगे। समय बहुत बलवान है। ये कभी भी कुछ भी कर सकता है। एक इन्सान को अपने समय का सदैव सदुपयोग करना चाहिए। यदि एक मानव समय के साथ नहीं चलता तो अंत में उसके हाथ पछतावा ही रह जाता है। इसलिए हमें समय के साथ ही चलना चाहिए और अपने का समय रहते कर लेने चाहिए। ऐसी ही बातो के लिए प्रेरित करता है ये दोहा संग्रह “ समय पर दोहे ” :-


समय पर दोहे

समय पर दोहे

1.
समय नष्ट करता रहे, करे न कोई काम ।
जीवन मुश्किल हो तभी, मिले न फिर आराम ।।


2.
समय चक्र है घूमता, करता सबका न्याय ।
कोई इससे बच सके, ऐसा नहीं उपाय ।।


3.
दया करें इन्सान बस, समय न करता माफ़ ।
दे करनी का फल सदा, करता है इंसाफ ।।


4.
कभी घमंड न कीजिए, समय बड़ा बलवान ।
किए रंक राजा कई, निर्धन को धनवान ।।


5.
मंजिल उसको प्राप्त जो, करता रहे प्रयास ।
समय उसी का साथ दे, जिसको है विश्वास ।।


6.
समय के आगे न चले, कभी किसी का जोर ।
रचता अपना खेल ये, कभी न करता शोर ।।


7.
समय न ठहरा है कभी, बदली कभी न चाल ।
जिसके जैसे कर्म हैं, उसका वैसा हाल ।।


8.
समय मिलाए धूल में, समय दिलाए ताज ।
समय संग जो है चला, हुआ उसी का राज ।।


9.
समय उठाता प्रश्न भी, समय करे समाधान ।
मति दूषित कर दे समय, समय सही दे ज्ञान ।।


10.
समय रहे यूँ बीतता, जैसे दिन अरु रात ।
उतना हमको दे रहा, जितनी है औकात ।।


समय पर दोहे का विडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करें :-

Samay Par Dohe | समय पर दोहे | Dohe On Time In Hindi

>> पढ़िए :- समय पर 20 बेहतरीन सुविचार  <<


” समय पर दोहे ” आपको कैसे लगे ? अपने विचार कमेंट बॉक्स के जरिये हम तक अवश्य पहुंचाएं।

पढ़िए समय से संबंधित ये बेहतरीन रचनाएं :-

धन्यवाद।

You may also like

13 comments

Avatar
Rohit August 9, 2021 - 5:22 PM

Thanks sir so MST jabardast and jakas dohe????????????????????????????

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh August 12, 2021 - 2:45 PM

धन्यवाद रोहित जी।

Reply
Avatar
Neelu kumar July 16, 2021 - 3:35 PM

Very nice

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh July 19, 2021 - 10:42 PM

Thank You….

Reply
Avatar
Rashid Hayat Khan June 30, 2021 - 7:30 PM

I couldn't find a famous Doha from Kabir das that samay par tauvar phalay ketak seencho heet one.

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh July 1, 2021 - 10:40 PM

Brother these doha are written by me…. These are not of kabir ji..

Reply
Avatar
Bk Damini April 5, 2021 - 1:58 PM

Greetings of peace , brother Sandeep .
Very beautiful doha .
We want to use one of your dohas in our divotional song for godly service , if you are ok with it .! Thank you .

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh April 22, 2021 - 11:28 PM

Sorry For Late reply… Yes you can use if you are going to use only one…

Reply
Avatar
ravi kumar February 19, 2020 - 2:54 PM

sir aagar aap ki anumati ho to kavita ki yek do panktiya aapki introduction ke saath youtube me use kr skta hu

Reply
Chandan Bais
Chandan Bais February 20, 2020 - 11:42 AM

ravi kumar ji, aapne jaisa kaha hai us hisab se ham anumati jarur denge, aap hamse blogapratim@gmail ya fir WhatsApp +91 9115672434 par ek baar sampark kre.
Thanks

Reply
Avatar
Arjun July 14, 2019 - 9:16 PM

I want more….

Reply
Avatar
Banshi January 6, 2019 - 10:24 AM

Bahut sundar… Samayyyy = God

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh January 11, 2019 - 9:05 PM

धन्यवाद बंशी भाई…..

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More