Home शायरी की डायरीधार्मिक-उत्सव-बधाइयाँ जय श्री राम शायरी :- राम की शक्ति और भक्ति शायरी | Ram Bhakti Shayari

जय श्री राम शायरी :- राम की शक्ति और भक्ति शायरी | Ram Bhakti Shayari

by Sandeep Kumar Singh

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है

कलयुग पापों से भरा हुआ युग है। जिससे बचने का एकमात्र रास्ता हैं भगवन श्री राम, जिन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम राम के नाम से भी जाना जाता है। उनका नाम ही बहुत है इस कलयुग के चक्करों से बचने के लिए। इस से पहले भी हम भगवान् श्री राम पार शायरी संग्रह भाग 1 लिख चुके हैं। उन्हीं के आशीर्वाद से एक बार फिर हम आपके लिए लाये हैं जय श्री राम शायरी :-

जय श्री राम शायरी

श्री राम भगवान पर शायरी

1.

कष्ट न कोई संताप हो, हो जाएँ सब काम,
बस रे मना तू जपता रह, एक राम का नाम।
जय श्री राम।

2.

पाप तेरे धुल जायेंगे, हर विपदा होगी दूर,
बस अपने माथे लगा, राम नाम की धूल।
जय श्री राम।

3.

जिसके मन में राम बसे हों, उसकी आँखें कभी न रोती,
जीवन सुखमय हो जाता, उन पर कृपा प्रभु की होती।
जय श्री राम।

4.

सारी दुनिया झूठ है, साचा है राम का नाम,
जो भी इसको जपता जाए, पा ले चारों धाम।
जय श्री राम।

5.

हे मानव नैया है तू, मझधार है ये संसार,
शरण में जा तू राम की वही लगते पार।
जय श्री राम।

6.

देने वाला राम है, मन है बेपरवाह,
जो दे देता वो हमें, हमको उसी की चाह।
जय श्री राम।

7.

रघुवर तेरे चरण में, मिले जो हमको स्थान,
दुःख सरे मिट जायेंगे, हो जायेगा कल्याण।
जय श्री राम।

8.

प्रभु हम तेरे द्वार पर, खड़े मांगते भीख,
सुखमय जीवन व्यतीत हो, ऐसी दे दो सीख।
जय श्री राम।

9.

जीवन में तेरा साथ हो, सिर पर तेरा हाथ हो,
फिर सुख ही सुख हो जायेगा, दुःख की क्या औकात हो।
जय श्री राम।

10.

सुबह शाम जो करता है, हे प्रभु तेरा ध्यान,
उसके लिए जीवन की, हर राह होती आसान।
जय श्री राम।

11.

लक्ष्मण जिनके भ्राता हैं, सेवक हैं हनुमान,
न कोई संकट उस पर पड़े, न हो कोई नुकसान।
जय श्री राम।

12.

नजर पड़े बस राम की, तो पतझड़ बने बहार,
और न कुछ बस राम हैं, इस जग के आधार।
जय श्री राम।

13.

मुख में राम का नाम हो, दिल में हो तस्वीर,
काम सफल होते सभी, बिगड़ी बनती तकदीर।
जय श्री राम।

14.

प्रभु तेरी करामात से, मैं तो हूँ अनजान,
तू तो अंतर्यामी है, मैं बालक नादान।
जय श्री राम।

15.

सुबह तुझसे ही होती है, तुझसे होती है शाम,
जीवन यूँ ही गुजर रहा, बस लेकर राम का नाम।
जय श्री राम।

16.
शरण में तेरी जो रहे, वो होता नहीं निराश,
जग झूठा लगता उसे, बस तुझ पर हो विश्वास।
जय श्री राम।

17.

कितनी भी बिगड़ी हालत हो, वो पल में देते सुधार,
असंभव को संभव करते, करते हैं वो चमत्कार।
जय श्री राम।

पढ़िए :- भगवान् शिव पर शायरी संग्रह

जय श्री राम शायरी संग्रह पढ़ कर यदि आप में भक्ति भावना का जरा सा भी संचार हुआ हो तो अपनी भावनाएं कमेंट बॉक्स में जरूर व्यक्त करें।

पढ़िए भगवान राम से संबंधित यह रचनाएं :-

धन्यवाद।

qureka lite quiz

आपके लिए खास:

6 comments

Avatar
sukhmangal singh July 10, 2019 - 3:48 AM

हार्दिक ध्न्यवाद जी

Reply
Avatar
ganesh June 4, 2019 - 2:13 PM

Anmol vchan hai Ji Jai Shree Ram

Reply
Avatar
तोषण गिरी गोस्वामी October 27, 2018 - 10:02 AM

मै भगवान प्रभु श्री राम जी का अनन्य भक्त हुं , और उन्ही का दिया हुआ मेरा यह जीवन मेरे प्रभु को ही अर्पित है…… शब्दो मे मै अपनी भक्ति भावो को पिरोना चाहता हुं….. इन्ही अपेक्षाओ के साथ आपका राम जी के भक्ति से सराबोर शायरी संग्रह देखा…..
सच मे बहुत ही अच्छा पहल है आप लोगो के द्वारा और परम श्रध्देय संदीप कुमार सिंह भैया जी आपको कोटीश धन्यवाद कि आपने मेरे इस भक्ति के सफर को अपने शब्दो शायरी से सुहाना कर दिया …. बहुत बहुत धन्यवाद

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh October 27, 2018 - 10:51 AM

आपका भी धन्यवाद तोषण गिरी गोस्वामी जी। बस आप इसी प्रकार अपना आशीर्वाद बनाये रखें। हम भी इसी प्रकार भक्तिमय भावनाओं को शब्दों का रूप देते रहेंगे। धन्यवाद।

Reply
Avatar
sukhmangal singh August 9, 2018 - 2:42 AM

आदरणीय संदीप कुमार सिंह जी को जय श्री राम शायरी लिखने के लिए अयोध्या क्षेत्र वासी सुखमंगल सिंह (google+sukhmanmgal ) ने दी बधाइयां | प्रभु श्री राम जी की कृपा बनी रहे ,शुभकामनाएं !

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh August 9, 2018 - 8:48 PM

धन्यवाद सुखमंगल जी।

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More