Home शायरी की डायरीधार्मिक-उत्सव-बधाइयाँ श्री राम भगवान पर शायरी :- राम के नाम की प्रभु भक्ति शायरी | Ram Bhakti Shayari

श्री राम भगवान पर शायरी :- राम के नाम की प्रभु भक्ति शायरी | Ram Bhakti Shayari

by Sandeep Kumar Singh

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है

राम नाम की महिमा तो जग विख्यात है। राम जी के जीवन से जुड़े अलग-अलग त्यौहार जिनमे राम नवमी, दशहरा और दिवाली प्रमुख हैं , मनाये जाते हैं। राम नाम का गुणगान तो तुलसीदस ने अपनी इस चौपाई में बहुत ही बखूबी से किया है, ‘ कलियुग केवल नाम अधारा , सुमिर सुमिर नर उतरहि पारा ‘। इसका अर्थ है कि कलयुग में मुक्ति पाने का सबसे सरल साधन राम नाम ही है। इसी तथ्य को ध्यान में रखते हुए हम आप के लिए लेकर आये हैं ‘ श्री राम भगवान पर शायरी ‘ ( Sri Ram Bhagwan Ki Shayari ) :-

श्री राम भगवान पर शायरी

श्री राम भगवान पर शायरी

1.

माता-पिता की सेवा करले
तेरे चारों धाम हो जायेंगे,
जप ले राम का नाम
तेरे सब काम हो जाएँगे।

2.

पूरी की पूरी दुनिया को भुला दे
यही तो वो जाम है,
धरती से उठा अम्बर तक पहुंचा दे
वो ही राम नाम है।

3.

राम की कृपा है जिस पर होती
उसकी कभी न किस्मत सोती,
दुःख दरिद्र सब मिट जाते हैं
भूखे को मिलती रोटी।

4.

शीत में आग की तपन ग्रीष्म में ठंडी पवन है
राम नाम है ऐसी औषधि मंगलमय होता जीवन है।

5.

उसके होते हुए तू क्यों परेशान है,
राम के चरणों में तो हर समस्या का समाधान है।

6.

राम नाम का जाप है हर मुश्किल का तोड़,
जप लो राम का नाम तुम दोनों हाथ को जोड़।

7.

जीवन की नैया जो कभी फंसे बीच मझधार,
राम नाम का केवट ही उसे लगाता पार।

8.

मर्यादा पुरुषोत्तम है वो भक्त हैं जिनके हनुमान,
सबके पाप मिटा देते जो वो ही तो सबके राम हैं।

9.

जीवन जो पापों का दरिया राम नाम है सेतु
वो ही पार लगाते सबको उन्हीं का नाम ले तू।

10.

राम नाम की औषधि हारती है सब रोग,
उसकी नजर जब भी पड़े बन जाए बिगड़े संजोग।

11.

हर दम मस्त वो रहते हैं सुबह हो चाहे शाम हो,
हर पल जिनके मन में रहते सिर्फ और सिर्फ राम हों।

12.

वो तो सदा सबका है
कभी तू भी उसका बन कर देख,
बनेंगे तेरे बिगड़े काम
राम नाम तू जप कर देख।

13.

पिता की आज्ञा मान कर वन में किया निवास,
फिर वापस आये थे वो कर के रावण का नाश।

14.

रावण के संहार पर दशहरा
अयोध्या वापसी पर मानते दिवाली हैं,
दुनिया सारी गुण उनके गाती
उनकी तो हर इक बात निराली है।

15.

राम की महिमा जिन न जानी
वो है मूढ़ महा अज्ञानी,
जो प्रभु का निय नाम है लेता
उसकी कभी न होती हानि।

16.

पाप बढ़ गया दुनिया में आ गया रावण राज,
शरण में जा श्री राम की अब वही रखेंगे लाज।

17.

कितने भी अनमोल रत्न हों
मिलते सागर की गहराई में
राम नाम से तो पत्थर तैरें
दम है इस सच्चाई में।

18.

अस्त-व्यस्त सी जिंदगी को मिलता बहुत सुकून,
राम नाम की शक्ति से जीने का मिलता जूनून।

19.

आज के इस संसार में बुराई के होते काम
हर घर में रावण बसता कहीं न दिखते राम।

20.

इक रावण की खातिर तूने त्रेतायुग में अवतार लिया,
कलयुग में लाखों रावण है कभी न तूने सार लिया।

पढ़िए :- राम भगवान के ऊपर शायरी भाग – 2

‘ श्री राम भगवान पर शायरी ‘ शायरी संग्रह के बारे में अपने विचार कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखें।

पढ़िए भगवान राम से संबंधित ये सुंदर रचनाएं :-

 

धन्यवाद।


Image Source :- पंजाब केसरी

qureka lite quiz

आपके लिए खास:

9 comments

Avatar
नरेन्द्र मंगल April 21, 2021 - 1:03 PM

बहुत बढ़िया…अति सुंदर शायरी!!!

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh April 22, 2021 - 11:28 PM

धन्यवाद नरेंद्र जी…

Reply
Avatar
Sandeep October 8, 2019 - 7:13 AM

महोदय आपकी लेखन शैली अच्छी है। मन को छू गयी।।
https://teachknowledg7.blogspot.com

Reply
Avatar
Sandeep October 8, 2019 - 7:09 AM

बहुत अच्छा लिखा
धन्यबाद

Reply
Avatar
Mahendra Kumar September 30, 2018 - 7:31 AM

आपकी लेख कला निराली है काफी सहज शब्दों का मेल जोल है और बहुत ही प्रभावशाली है मुझे ऐसे
ही शब्दों की खोज थी ।आपका बहुत अभूत आभार ।।

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh September 30, 2018 - 10:22 PM

महेंद्र कुमार जी आपका भी बहुत=बहुत आभार। इसी तरह हामरी हौसलाफजाई करते रहें। धन्यवाद।

Reply
Avatar
Dashrath kashyap February 10, 2018 - 4:26 PM

Jai Shree Ram.

Reply
Avatar
Abhishek October 17, 2017 - 8:56 PM

बहुत खुब मुझे और प्रेरणादायक भाषण चाहिए

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh October 18, 2017 - 6:04 AM

जरूर मिलेंगे अभिषेक जी। समय के साथ ही यह संभव होगा।

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More