स्वच्छता पर कविता | Cleanliness Poem In Hindi

स्वच्छता पर कविता ( Cleanliness Poem In Hindi ) में जीवन में स्वच्छता अर्थात् साफ-सफाई के महत्त्व पर प्रकाश डाला गया है। स्वच्छता का हमारे स्वास्थ्य के साथ गहरा सम्बन्ध है। स्वच्छता से तन और मन दोनों निरोग रहते हैं जिससे हम अपने कामों को भली – भाँति सम्पादित कर सकते हैं।जब आस – पास का वातावरण स्वच्छ रहेगा तब हम भी स्वस्थ और प्रसन्न रहेंगे। इसीलिए कहा जाता है कि स्वच्छता में ही सम्पन्नता का निवास होता है। हमें सुखी जीवन जीने के लिए स्वच्छता को भार नहीं मानकर अपने जीवन का अनिवार्य अंग समझना होगा।

स्वच्छता पर कविता
Cleanliness Poem In Hindi

स्वच्छता पर कविता

अगर चाहते हैं दुनिया में
कल को रहे हमारी शान,
अपनाना तब होगा हमको
आज स्वच्छता का अभियान।

जो रखता ना साफ-सफाई
रहे न कोई उसके पास, 
गन्दे रहने वालों का तो 
सभी उड़ाते हैं उपहास। 

छुपा स्वच्छता में रहता है 
जीवन के हर सुख का तत्त्व, 
देना ही होगा हम सबको
पग – पग इसको पूर्ण महत्त्व। 

करती आई सदा स्वच्छता 
तन मन को भी स्वास्थ्य प्रदान, 
जिससे मानव निज कर्मों पर 
दे पाता है पूरा ध्यान। 

रहा सफाई और स्वास्थ्य का 
आपस में गहरा सम्बन्ध, 
जीवन रूपी फूल इसी से 
बिखराता है सुख की गन्ध। 

बने स्वच्छता आदत अपनी 
नहीं लगे यह हमको भार, 
साथ देह के घर – बाहर भी
स्वच्छ रखें हम भली प्रकार।

पढ़िए स्वच्छता को समर्पित कविताएं :-

” स्वच्छता पर कविता ” ( Cleanliness Poem In Hindi ) आपको कैसी लगी? अपने अनमोल विचार हमें कॉमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-

apratimkavya logo

धन्यवाद।

qureka lite quiz

One Response

  1. Avatar Shivam Yadav

Add Comment