Home » हिंदी कविता संग्रह » देशभक्ति कविताएँ » सरहद पर खड़ा जवान है :- देश के पहरेदारों को समर्पित देश भक्ति कविता भाग – 2

सरहद पर खड़ा जवान है :- देश के पहरेदारों को समर्पित देश भक्ति कविता भाग – 2

by Sandeep Kumar Singh

देश की खातिर अपनी जान तक कुर्बान कर देने वाले जवानों को समर्पित एक और देश भक्ति कविता सरहद पर खड़ा जवान है :-

सरहद पर खड़ा जवान है

सरहद पर खड़ा जवान है

या तो इस बदन पे वर्दी हो
या कफ़न तिरंगा हो प्यारा
लो जान वतन के नाम है की
बस रुके न प्रगति की धारा,
जिस शख्स के सीने में रहता
हर पल यही अरमान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

दुश्मन न आँख उठा पाए
एक कदम न आगे बढ़ा पाए
जो कोशिश कर के देख भी ले
तो अपनी जान से वो जाए,
इस देश पर आंच न आये
वो हो जाता कुर्बान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

चाहे वर्षा का हो मौसम
चाहे गर्मी की मार हो
या सर्द वादियों में फिर
बर्फीले ऊंचे पहाड़ हो ,
इन सबको सहते हुए भी
खड़ा जो सीना तान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

हाँ माना घर से दूर है वो
पर जरा भी न मजबूर है वो
एक माँ की आँख का तारा
किसी के माथे का सिन्दूर है वो,
वो भारत माँ का बेटा
इस देश का वो सम्मान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

परिवार वो माने सबको
सबके लिए वो जीता है
उनकी रक्षा की खातिर
तेज तर्रार वो चीता है
ऊपर से कड़क है दीखता
भीतर से नर्म इन्सान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

यही दुआ ‘संदीप’ की है बस
इन्हें गम न कोई सताए
दुश्मन को तो देख ये लेंगे
खुदा अपनों से इन्हें बचाए,
इन्हीं की वजह से अब तक
सुरक्षित हिंदुस्तान है
हम सबका वो रखवाला
सरहद पर खड़ा जवान है।

पढ़िए :- सैनिक पर देशभक्ति कविता

‘ सरहद पर खड़ा जवान है ‘ कविता के बारे में अपनी राय हम तक कमेंट बॉक्स के जरिये जरूर पहुंचाएं।

पढ़िए देशभक्ति से संबंधित बेहतरीन रचनाएं :-

धन्यवाद।


*Image Source :- odishatv.in

You may also like

8 comments

Avatar
ila goswami July 15, 2019 - 2:43 PM

बहुत सुंदर कविता है, क्या हम इसे इस्तेमाल कर सकते हैं आपको श्रेय दिया जाएगा?

Reply
Chandan Bais
Chandan Bais July 15, 2019 - 3:03 PM

इला जी, अगर आप ये कविता किसी डिजिटल प्लेटफोर्म जैसे की, सोशल मीडिया(फेसबुक, ट्विटर, आदि), विडियो प्लेटफ़ॉर्म (youtube आदि), या किन्ही और जगह इस्तेमाल करना चाहती है तो श्रेय के साथ हम चाहेंगे की आप इस पोस्ट का लिंक भी वहां add करे जिससे हमें backlink मिले। अगर ऑफलाइन या प्रिंट मीडिया में इस्तेमाल करना चाहते है तो हमारे ब्लॉग का नाम और लेखक का नाम श्रेय के रूप में दे सकते है। इसके अलावा किसी दुसरे ब्लॉग या वेबसाइट को पब्लिश करने की अनुमति हम नही देते। अगर और कोई जानकारी चाहिए हो तो हमें blogapratim@gmail.com या WhatsApp +91 7697293600 पे संपर्क कर सकते है। धन्यवाद।

Reply
Avatar
विकाश कुमार January 22, 2019 - 8:42 PM

बहुत ही अछि कविता है इस कविता को में 26 जनवरी को स्कूल कायक्रम में बोलने वाला हु।

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh January 30, 2019 - 8:37 PM

बहुत शुक्रिया विकाश कुमार जी…

Reply
Avatar
निखिल August 14, 2018 - 8:48 PM

बहुत ही खूबसूरत पंक्तियां सलाम है वीर जवानों की शहादत को????????????????????????????????????????………..

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh August 15, 2018 - 10:02 PM

धन्यवाद निखिल जी।

Reply
Avatar
हरिशंकर पाण्डेय May 24, 2018 - 6:00 PM

उत्तम रचना

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 24, 2018 - 6:44 PM

धन्यवाद हरिशंकर पाण्डेय जी….

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More