Home » हिंदी कविता संग्रह » क्रिसमस पर कविता :- क्रिसमस आया | Christmas Poem In Hindi

क्रिसमस पर कविता :- क्रिसमस आया | Christmas Poem In Hindi

by Sandeep Kumar Singh

25 दिसंबर का वह दिन जब पूरे विश्व में क्रिसमस का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। बच्चों और बड़ों में इस त्यौहार को लेकर काफी उमंग देखी जा सकती है। हर तरफ सजावट देखी जा सकती है। उपहारों का लेन-देन भी काफी मात्र में बढ़ जाता है। इसके कुछ ही दिन बाद नए वर्ष का आगमन होने के कारन इस त्यौहार की महत्वता और अधिक बढ़ जाती है। आइये पढ़ते हैं क्रिसमस त्यौहार को समर्पित कविता ‘ क्रिसमस पर कविता ‘ :-

क्रिसमस पर कविता

क्रिसमस पर कविता

क्रिसमस आया क्रिसमस आया
ढेरों खुशियाँ है ये लाया
क्रिसमस आया….

बाजारों में रौनक छाई
है सज गई सारी दुकानें
नई-नई चीजें लेने को
बच्चे सपने लगे सजाने,
पहना कपड़ा लाल सभी ने
सेंटा जैसा रूप बनाया
क्रिसमस आया….

बाँट रहे मिलकर आपस में
अपने दिल की खुशियाँ सारे
यही मांगते इश्वर से बस
दुःख न आये पास हमारे,
सर्दी की इस ठिठुरन में भी
सबको मजा बहुत है आया
क्रिसमस आया….

रात हुई तो जगमग चमके
घर पर लाइट रंग बिरंगी
हाथों में उपहार उठाये
मिल रहे हैं साथी संगी,
हाथ मिला कर इक-दूजे से
है गले से उनको लगाया
क्रिसमस आया….

कहीं हो रहा नृत्य कहीं पर
दावत की मौज लगी भारी
सिर पर सबके चढ़ कर बोले
क्रिसमस त्यौहार की खुमारी,
अर्धरात्रि को लेकर सेंटा
बांटने उपहार है आया
क्रिसमस आया….

क्रिसमस आया क्रिसमस आया
ढेरों खुशियाँ है ये लाया
क्रिसमस आया….

क्रिसमस पर कविता का विडियो यहाँ देखें :-

क्रिसमस पर कविता ( क्रिसमस आया ) | Poem On Christmas In Hindi

पढ़िए अप्रतिम ब्लॉग पर यह बेहतरीन कविताएं :-

क्रिसमस पर कविता आप सबको कैसी लगी? इस कविता के बारे में हमें अपने अनमोल विचार कमेंट बॉक्स के माध्यम से बताएं।

धन्यवाद।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More