Home » रोचक जानकारियां » Vayu Pradushan | वायु प्रदूषण रोचक तथ्य व जानकारी

Vayu Pradushan | वायु प्रदूषण रोचक तथ्य व जानकारी

by Sandeep Kumar Singh

Vayu Pradushan – प्रदूषण प्राकृतिक वातावरण में दूषित पदार्थों का प्रवेश है जो प्रतिकूल परिवर्तन का कारण बनता है। प्रदूषण के प्रमुख रूपों में वायु प्रदूषण, प्रकाश प्रदूषण, कूड़े, ध्वनि प्रदूषण, प्लास्टिक प्रदूषण, मिट्टी प्रदूषण, रेडियोधर्मी प्रदूषण, थर्मल प्रदूषण, दृश्य प्रदूषण और जल प्रदूषण शामिल हैं। आज हम जानेंगे हवा में फैलने वाले प्रदूषण यानि कि वायु प्रदुषण के बारे में :-

Vayu Pradushan
वायु प्रदूषण

Vayu Pradushan

वायु प्रदूषण वातावरण में उन पदार्थों की उपस्थिति है जो मनुष्यों और अन्य जीवित प्राणियों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं, या जलवायु या सामग्री को नुकसान पहुंचाते हैं।

वायु प्रदूषण के कारण
Vayu Pradushan Ke Karan

वायु प्रदूषण फैलने के बहुत से कारण हैं। घरेलू दहन उपकरण (Household combustion devices ), मोटर वाहन, औद्योगिक सुविधाएं (, industrial facilities  ) और जंगल की आग वायु प्रदूषण के सामान्य स्रोत हैं।

वायु प्रदूषण से संबंधित रोचक तथ्य :-

1. 2014 के एक अध्ययन में पाया गया कि चीन ( China ) के उपकरण-, मशीनरी- और उपकरणों-निर्माण (Devices-Manufacturing ) और निर्माण क्षेत्रों में वायु प्रदूषक उत्सर्जन ( Air pollutant emissions ) में 50% से अधिक का योगदान है।

2. जंगल में लगी आग के दौरान,  अनियंत्रित बायोमास दहन से निकलने वाला धुआं वायु प्रदूषण में 75% का योगदान देता है।

3. वायु प्रदूषण स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़े पर्यावरणीय जोखिमों में से एक है। वायु प्रदूषण के स्तर को कम करके, देश स्ट्रोक, हृदय रोग, फेफड़ों के कैंसर और अस्थमा सहित पुरानी और तीव्र श्वसन संबंधी बीमारियों से होने वाली बीमारियों के बोझ को कम कर सकते हैं।

4. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 2014 में अनुमान लगाया था कि हर साल वायु प्रदूषण दुनिया भर में लगभग 7 मिलियन लोगों की अकाल मृत्यु का कारण बनता है। मार्च 2019 में प्रकाशित अध्ययनों ने संकेत दिया कि यह संख्या लगभग 8.8 मिलियन हो सकती है।

5. वायु प्रदूषण के कारण भारत में मृत्यु दर सबसे अधिक है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार किसी भी अन्य देश की तुलना में भारत में अस्थमा से अधिक मौतें होती हैं।

6. दिसंबर 2013 में चीन में हर साल वायु प्रदूषण से 500,000 लोगों की मौत का अनुमान लगाया गया था।

7. हर साल दिवाली पर पटाखे न जलाने का आन्दोलन सा चल पड़ता है लेकिन क्या आप जानते हैं जिन कारणों से वायु प्रदूषण फैलता है उनमें से 51% [स्पष्टीकरण की आवश्यकता] औद्योगिक प्रदूषण, 27% वाहनों द्वारा, 8% फसल जलाने और 5% दिवाली आतिशबाजी के कारण होता है।

8. वायु प्रदूषण स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़े पर्यावरणीय जोखिमों में से एक है। वायु प्रदूषण से  देश स्ट्रोक, हृदय रोग, फेफड़ों के कैंसर और अस्थमा सहित कई बीमारियां हो जाती हैं।

9. लगभग 2.6 बिलियन लोग प्रदूषणकारी खुली आग या मिट्टी के तेल, बायोमास (लकड़ी, जानवरों के गोबर और फसल के कचरे) और कोयले से चलने वाले साधारण स्टोव का उपयोग करके खाना बनाते हैं।

10. 5 साल से कम उम्र के बच्चों में निमोनिया के कारण होने वाली मौतों में से लगभग आधी घरेलू वायु प्रदूषण से साँस लेने वाले पार्टिकुलेट मैटर (कालिख) के कारण होती हैं।

( Vayu Pradushan ) वायु प्रदूषण रोचक तथ्य व जानकारी जैसी अन्य जानकारी के लिए बने रहें अप्रतिम ब्लॉग के साथ।

पढ़िए अप्रतिम ब्लॉग पर यह रोचक जानकारियां :-

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

धन्यवाद।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More