मजेदार हिंदी चुटकुले और हास्य किस्से कहानियाँ – १ | Funny Hindi Short Stories

मजेदार हिंदी चुटकुले और हास्य कहानी का संग्रह पढ़े –

मजेदार हिंदी चुटकुले और हास्य कहानी – 1

प्राइमरी स्कूल के मास्टर जी

प्राइमरी स्कूल में मास्टर जी गहरी नींद मे सो रहे थे।
तभी कलेक्टर साहब आ गये।
मास्टर जी पकडे गये।
बहुत देर उठाने के बाद मास्टर की नींद खुली।
नीन्द खुलते ही मास्टर कलेक्टर को देखते ही बोले –
तो बच्चों, समझ गए ना, कुंभकर्ण ऐसे सोता था।

कलेक्टर साहब सन्न


पप्पू और भिखारी

पप्पू को एक भिखारी मंदिर के बाहर मिला !
भिखारी :- भगवान के नाम पर कुछ दे दो साहब, चार दिन से कुछ नहीं खाया !
पप्पू 500 का नोट निकालते हुए बोला 400 खुले है।
भिखारी :- हां, जी साहब है।
पप्पू :- तो साले उससे कुछ लेकर खा ले।


जग्गा की सूझ-बुझ

जग्गा और एक लड़की का चक्कर था। जग्गा का उस लड़की के घर वालो से पहचान भी हो गया था, तो उनके यहाँ उसका आना जाना भी चल जाता था।

कुछ दिनों से जग्गा और उस लड़की का किसी बात पे झगड़ा चल रहा था। एक दिन जग्गा ने आर या पर करने की ठानी। उसने एक मौका देख के जब उस लड़की के घर उस लड़की के अलावा और कोई नही था, वो एक डिब्बे में मिटटी का तेल(करोसिन) लेके चला गया।

थोड़ी देर बहस करने के बाद जग्गा ने सारी मिटटी का तेल अपने ऊपर उड़ेल दिया। उसके बाद वो लड़की को आग लगाने के बात से डराने लगा। लेकिन उसी वक़्त लड़की के पिताजी घर आ गये।

जग्गा को मिटटी तेल में तर-बतर देख उसके लड़की के पिताजी ने पूछा,
“जग्गा ये क्या हो रहा है यहाँ..”

जग्गा उसके अचानक से आ जाने से हक्का बक्का रहा गया। फिर बात बनाते हुए बोला,
“कुछ नही अंकल जी, इस ऊपर सज्जे में मिटटी का तेल रखा था डिब्बे में, वो मेरे ऊपर आ गिरा….”

लड़की के पापा सॉक्स, जग्गा रॉक्स।


पढ़िए ⇒ मजेदार किस्से और कहानियाँ भाग – 2


पढ़िए इसी तरह के और भी मजेदार लेख-

धन्यवाद।

16 Comments

  1. Avatar raju yadav
  2. Avatar Majedar Storise
  3. Avatar Ashish kumar
  4. Avatar Chandan saaho
  5. Avatar willson
  6. Avatar Salman khan
  7. Avatar sourabh
  8. Avatar NIVAS KUMAR
  9. Avatar चाहत
  10. Avatar अयाझ
  11. Avatar Navin

Add Comment

Safalta, Kamyabi par Badhai Sandesh Card Sanskrit Bhasha ka Mahatva in Hindi Surya Ke Bare Mein Jankari | Surya Ka Tapman Vyas Prithvi Se Doori 25 Famous Deshbhakti Naare and Slogan आधुनिक महापुरुषों के गुरु कौन थे?