Home शायरी की डायरीरिश्तें-मोहब्बत-भावनाएं माँ पर दो लाइन शायरी :- माँ के लिए स्टेटस और शायरी | Maa Shayari 2 Lines

माँ पर दो लाइन शायरी :- माँ के लिए स्टेटस और शायरी | Maa Shayari 2 Lines

by Sandeep Kumar Singh

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है

Maa Shayari 2 Lines माँ को समर्पित माँ पर दो लाइन शायरी में पढ़िए माँ के प्रति हमारे ज़ज्बातों को चन्द शब्दों में। इसके साथ ही आपको याद आएंगे वो पल जो अपने माँ के साथ बिताएं होंगे। माँ तो इस धरती पर स्वयं इश्वर का अवतार है जो अपनी संतान की हर ख्वाहिश पूरी करती है अ उर उन्हें जीवन में एक अच्छा इन्सान बनाती है। आइये पढ़ते हैं माँ पर दो लाइन शायरी :-

माँ पर दो लाइन शायरी

1. Maa Par Do Line Shayari in Hindi:

माँ पर दो लाइन शायरी

1.

उसके अल्फाजों से एक अलग सा जूनून मिलता है,
सारे जहान में बस माँ की गोद में सुकून मिलता है।

2.

साथ छोड़ देती है दुनिया पर वो साथ चलती है,
कैसे भी हो हालात माँ कभी नहीं बदलती है।

माँ दो लाइन शायरी स्टेटस

3.

लाख छिपाता है कोई जब परेशानियाँ जकड़ लेती हैं,
माँ-माँ होती है औलादों की खामोशियाँ को पढ़ लेती है।

4.

जिसने दी है जिंदगी और चलना सिखाया है,
वो माँ मेरी उस भगवान का साया है।

5.

आज भी नींद न आये तो वो लोरियां सुनाती है,
बस फर्क इतना है कि वो अब यादों में ही आती है।

6.

जो उसको ठुकरा दे उसका विनाश होता है,
माँ होती है घर में तो भगवान का वास होता है।

7.

वो जीवन में न कभी बर्बाद होता है,
जिसके सिर पर माँ का आशीर्वाद होता है।

8.

गिले शिकवे सभी दिल से साफ़ कर देती है,
मेरी खता पर पल भर में ही माँ मुझे माफ़ कर देती है।

9.

उनके लिए हर मौसम बहार होता है,
जिनके हिस्से में माँ का प्यार होता है।

10.

मेरे लिए वो दुनिया की सबसे ख़ास हस्ती है,
उसके क़दमों में तो मेरी सारी कायनात बस्ती है।

11.

बिगड़े हुए हालातों की तस्वीर बदल देती है,
माँ की दुवाएं बेटों की तकदीर बदल देती है।

माँ शायरी स्टेटस इन हिंदी

12.

मेरे साथ अगर तेरी ममता की कहानी न होती,
मैं तो होता मगर खुशनुमा ये जवानी न होती।

13.

तेरे दिए संस्कारों ने ही मुझको आज बनाया है,
सिर पर मेरे तेरी ही दुवाओं का साया है।

14.

एक नहीं सौ जनम उस पर कुर्बान हैं,
वो सिर्फ मेरी माँ ही नहीं, मेरी भगवान् है।

15.

वो ही मेरी दौलत है और वो ही मेरी शान है,
उसके क़दमों में ही तो मेरा सारा जहान है।

16.

सारे जहाँ में जो उसको सबसे ज्यादा प्यारे हैं,
उसकी कोख से जन्में उसकी आँखों के तारे हैं।

17.

बे’गैरत है वो औलाद जो माँ को रुला देती है,
माँ तो बच्चों की हर खता को हंसकर भुला देती है।

18.

इस दुनिया में मुझे उससे बहुत प्यार मिला है,
माँ के रूप में मुझे भगवान् का अवतार मिला है।

Shayari On Maa | Maa par Hindi Shayari

19.

सोया रहता हूँ मैं जब मैं माँ के पैरों में,
खोया रहता उस पल मैं जन्नत की सैरों में।

20.

कैसे भी हों हालात, वो खुद को ढाल लेती है,
भूखे नहीं सोने देती, माँ बच्चे पाल लेती है।


2. Mother’s Day Special Gift for Maa

mothers day gifts for maa
Mother Day पर माँ को दीजिये खास तोहफा
indian gift for maa
maa ke liye gift
maa ke liye gift
gift for mom

3. माँ पर दो लाइन शायरी विडियो :-

Maa Shayari 2 Lines | माँ पर दो लाइन शायरी | माँ के लिए स्टेटस और शायरी | माँ शायरी २ लाइन्स

पढ़िए माँ को समर्पित अन्य रचनाएँ :-

माँ पर दो लाइन शायरी के बारे में अपने विचार हमें कमेंट बॉक्स में लिख कर अवश्य बताएं।

धन्यवाद।

qureka lite quiz

आपके लिए खास:

20 comments

Avatar
Sheikh Israil November 11, 2021 - 10:00 PM

ऐ मेरे दुश्मनों…..
मैंने अपना हाल छुपा रखा है अम्मीजान से……..

वरना

माँ की बद्दुआ तुम्हारी नस्लें तक उजाड़ सकती है………………

????अल्लाहु अकबर ????

Reply
Avatar
Kaushalendra singh February 8, 2021 - 10:52 PM

Kya likhun mein maa pr
Mein khud uski likhawat hun
I miss u maa????????

Reply
Avatar
Pradeep kumar dubey May 10, 2020 - 10:02 AM

बहुत सुंदर सर " मां " के लिए इतना कुछ लिखा।

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 10, 2020 - 3:16 PM

धन्यवाद प्रदीप जी…

Reply
Avatar
Rinkesh Singh kirar April 14, 2020 - 5:56 PM

अगर मां न होती तो में भी न होता….मेरी कहानी मेरी जुबानी…

जब में बहुत छोटा था बचपन की कुछ धुंधली धुंधली यादें आज भी दिल को रुला देती हैं।

पंचायती चुनाव में विपक्छी पार्टी ने दंगे किए और मेरे पूरे परिवार के नाम police में रिपोर्ट डाल दी पुलिस पूरे परिवार के लोगों को पकड़ कर ले गई सिर्फ महिलाओं और बच्चो को छोड़ कर उस समय में सिर्फ 7 साल का था।।।
पूरा हंसता खेलता परिवार पूरी खुशियां मातम में बदल गई ।।
पापा को और पूरे परिवार को 1 साल की जेल हो गई ।।
फ़रवरी का महीना था फसल पकी खड़ी थी कटने को ।।
घर में ना कोई साधन था और ना ही धन था ।।
दिन में खेत पर जाने की कोशिश करते तो विरोधी पार्टी के लोग औरतों को मारते।।
तब मेरी ""मां"" ने फैसला किया रात को फसल काटने का मम्मी पूरी रात फसल काट ती ।।
और पूरा दिन घर का काम ।।
मेरी मां 6 दिन बिना सोए काम करती रहीं जिससे उनकी तबीयत विगड़ने लगी लेकिन फिर भी इधर मुझे देखती उधर घर का काम और फिर फसल ।।
बहुत परेशानियों के बीच घिरी मेरी मां ने कभी मुझे किसी चीज की कमी नहीं आने दी ।
मुझे खाना खिलाती और खुद भूखी सो जाती सच में कितनी प्यारी होती है ""मां"" कभी मुझे एहसास नहीं होने दिया परेशानियों का ।।
और पापा के न होने का ।
देखते देखते 1 साल निकल गया और फिर पापा घर आ गए जेल से फिर सब ठीक हो गया ।।

एक साल के बीच जो परेशानियों का सामना मेरी ""मां"" ने किया ।।
आज भी वो दिन याद करता हूं तो रूह कांप जाती है ।।
और आंखो से आंसू निकल पड़ते हैं सच में कितनी तकलीफें झेल कर भी मां कभी रोती नहीं मुस्कुराती रहती है ।।
जानती है अगर में रो पड़ी तो मेरे बच्चे भी रोने लगेंगे इस लिए हंस कर सारे गमों को दिल में छुपा जाती है ।।
सच में ""मां"" तो ""मां""होती है ????????????????

मेरी ""मां"" के ????क़दमों???? में मेरे 100 जीवन कुर्वान????????????????

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh April 15, 2020 - 9:48 PM

Rinkesh ji bas yahi baaten agar aulaado ko yaad rahe to koi maa beghar na ho….. your life story is really heart touching

Reply
Avatar
अनिल कुमार March 19, 2020 - 5:34 PM

मेरी माँ ही मेरे लिए सब कुछ हैं

Reply
Avatar
Bhawani prasad jajoriya February 7, 2020 - 10:15 PM

मां तो वो स्त्री हैं जो अपनी खुसिया का गला गोटकर अपनी औलाद की खुसिया के बारे में सोचे एक माँ ही हैं जो खुदको छोड़कर किसी अपने के बारे सोचे माँ इस दुनिया की सबसे सुंदर और सबसे अच्छी स्त्री हैं । बस यही बोलना आज के लिए अगर मेरे कंमेंडस आपको अच्छा लगा तो शेर करना बाकी ( राम राम खम्मा गणी ओर ''जय हिंद जय भारत'' )

Reply
Avatar
Mrityunjay sahu December 25, 2019 - 11:05 AM

बचपन में डर लगने पर
मेरी माँ ने मुझे गले लगाकर सुलाया है।
…..हा मेरी माँ ने मुझे बनाया है…….????

Reply
Avatar
धनंजय February 23, 2019 - 4:14 PM

टीचर ने कहा दुनियां पर निबंध लिखो
मैंने copy में लिखा “मां”

Reply
Avatar
Harishankar Pandey July 10, 2018 - 4:32 PM

जितना भी लिखें कम है अब उसकी शान में
माँ के समान कोई नहीं इस जहान में

हरिशंकर पाण्डेय
harishankarhindi.blogspot.com

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh July 15, 2018 - 10:39 AM

बिल्कुल सही बात हरिशंकर पांडेय जी।

Reply
Avatar
Love shayari June 27, 2018 - 7:07 PM

बहुत खूबसूरत शायरी है

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh July 2, 2018 - 11:20 AM

धन्यवाद।

Reply
Avatar
अभय प्रताप सिहं June 19, 2018 - 9:05 AM

सर मैं अपने फौजी स्वच्छता अभियान पर मेरे द्वारा लिखी हूयी चन्द्र लाइनों के तौर पर एक छोटी सी कविता दिल???? से
………………………………………..
फौजी स्वच्छता अभियान के लोगों का मानना है देश को स्वच्छ बनाना है….
चलाया गया एक अभियान ।
उसका नाम रखा गया फौजी स्वच्छ्ता अभियान ।।
हर इंसान को ठानना है इस अभियान को सफल बनाना है।
कदम से कदम मिलायेंगे इस देश को स्वच्छ बनायेंगे ।। क्योंकि
फौजी स्वच्छ्ता अभियान के लोगों का मानना है देश को स्वच्छ बनाना है…..
इस अभियान के लोग दूर रहकर भी पास होते हैं ।
तभी तो इस अभियान के लोग खाश होते हैं ।।
इस अभियान में नयी उम्मीदों का एहसास होता है।
तभी तो अभियान से जुड़े लोगों के अन्दर स्वच्छता के प्रति एक विश्वास होता है।। क्योंकि
फौजी स्वच्छ्ता अभियान के लोगों का मानना है देश को स्वच्छ बनाना है….
फौजियों द्वारा चलाये गये अभियान को लोगों ने दिल से लिया।
तभी तो ये अभियान एक गांव से होकर हर जगह पहुँच गया।।
इस अभियान के लोग कदम से कदम बढ़ा कर आगे बढ़ते रहेंगे।
इस अभियान को सफल इस देश को स्वच्छ बनाते रहेंगे।। क्योंकि
फौजी स्वच्छता अभियान के लोगों का मानना है इस देश को स्वच्छ बनाना है….
आज हमें इस बात को मानना है अपने दिलों में ठानना है।
इस अभियान को सफल बनाना है इस देश को स्वच्छ बनाना है।।
इस देश के हर दिलों में इस आग को जलाना है।
इस देश के गंदगी को , कुड़े -कचड़े को इधर – उधर फेंकने के जगह कूड़ेदान का मुँह दिखाना है।। क्योंकि
फौजी स्वच्छ्ता अभियान के लोगों का मानना है इस देश को स्वच्छ बनाना है….
फौजी स्वच्छ्ता अभियान टीम का कड़ा मेहनत आज रंग ला दिया ।
हर इंसान के दिल में स्वच्छता के दिये को जला दिया।
अंगद सिंह , संदीप परिहार , रोहित चौहान , सूरज ठाकुर , अंकित आर्मी , भास्कर सिंह , मीत पंडित , अंकुर पंडित और इस टीम से जुड़े लोगों ने इस अभियान को आगे बढाया है ।
फौजी स्वच्छता अभियान के लोगों ने हर इंसान के दिलों में स्वच्छ्ता के दिये को जलाया है स्वच्छता के दिये को जलाया है।। क्योंकि
फौजी स्वच्छ्ता अभियान के लोगों का मानना है इस देश को स्वच्छ बनाना है…..

************************

???? कयी जीत बाकी है कयी हार बाकी है।
अभी तो इन परिंदों का स्वच्छ्ता के प्रति असली उड़ान बाकी है।
यहां से चले हैं स्वच्छ्ता के प्रति नयी उम्मीदों की ओर।
ये तो सिर्फ एक पन्ना है ।
अभी तो पूरी किताब बाकी है
अभी तो पूरी किताब बाकी है।????
✍️ अभय प्रताप सिंह

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh June 19, 2018 - 2:21 PM

बहुत बढ़िया अभय प्रताप सिंह जी। आशा करता हूँ आप लोगों से प्रेरित होकर बाकी लोग भी स्वच्छता अभियान के प्रति जागरूक होंगे और देश को स्वच्छ बनाने में एकजुट होकर काम करेंगे। बहुत बढ़िया कविता लिखी है आपने। धन्यवाद।

Reply
Avatar
हरिशंकर पाण्डेय June 17, 2018 - 8:10 PM

संदीप जी, मेरा एक नया ब्लॉग 'शायरी सागर _'हरिशंकर पाण्डेय. कृपया उसे देखकर कुछ ब्लॉग सम्बंधित टिप्स अवश्य दें।
धन्यवाद!!

Reply
Avatar
basu Yadav May 26, 2018 - 4:37 PM

Jai ho

Reply
Avatar
हरिशंकर पाण्डेय May 24, 2018 - 5:58 PM

सुंदर सृजन

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 24, 2018 - 6:43 PM

धन्यवाद हरिशंकर पाण्डेय जी।

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More