Home » शायरी की डायरी » धार्मिक-उत्सव-बधाइयाँ » होली पर शायरी :- होली के त्यौहार पर हिंदी संदेश और स्टेटस | Holi Par Shayari

होली पर शायरी :- होली के त्यौहार पर हिंदी संदेश और स्टेटस | Holi Par Shayari

by Sandeep Kumar Singh

होली पर शायरी में प्रस्तुत है होली के त्यौहार पे होली की शायरी । भारत त्योहारों की धरती है। वैसे तो यहाँ कई त्यौहार मनाये जाते हैं लेकिन होली और दिवाली का कुछ ख़ास ही महत्व है। जहाँ दिवाली दीपों का त्यौहार है वहीं होली रंगों का। दोनों में कुछ समान है तो ये की दोनों बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक हैं। प्रहलाद को लेकर जब होलिका आग में बैठी थीं तो वरदान होने के बाद भी खुद को न बचा सकी। कहा जाता है इस दिन तो दुश्मन भी सब बुरे भाव मिटा कर मित्र बन जाते हैं। जिन्दगी के कई रंगों से सराबोर है ये होली का त्यौहार। तो आइये आज पढ़ते हैं इसी रंगों के त्यौहार ( Holi Par Shayari )होली पर शायरी ।

होली पर शायरी

होली पर शायरी

1.
बस रंग नहीं होते होली में
होती हैं बहुत सी बातें,
कुछ यादें बचपन यौवन की
कुछ रंग बिरंगी रातें।

2.

होली के इस शुभ अवसर पर
खुद से ये वादा तुम कर लो ,
कर के उदासी दूर किसी की
खुशियों के तुम रंग भर दो।

3.

होली त्यौहार है खुशियों का
बांटो सब में तुम प्यार,
रंग दो अपने रंग में सबको
करलो अपना ये संसार।

4.

होली आयी उड़े गुलाल, रंग हरा, पीला और लाल,
मस्ती है सबके सिर पे छाई, रंग देंगे हम सबके गाल।

5.

जात-पात न देखते हैं, होली के ये रंग
मिल कर सब खेलते हैं, इक दूजे के संग
मस्ती सबके सिर पर छा जाती
फिर मिलकर सब मचाते हुडदंग।

6.

खेल रहे सब मिल कर होली
है रंगों की बौछार
प्यार मोहब्बत बाँट रहे सब
मना के ये त्यौहार।

7.

बिना भेद के रंग लगाना, होली की है रीत
बैर मिटा कर सारे तुम दिल में बस रखना प्रीत।


पढ़िए :- होली के त्यौहार पर कुछ अप्रतिम विचार।


8.

भूल के सारे शिकवे गिले, तुम सब को रंग लगाओ,
प्यार मोहब्बत से मिलजुल कर, होली इस बार मनाओ।

9.

पकवान बने हैं मीठे-मीठे, चारों ओर ही उड़े गुलाल,
दुश्मन भी दोस्त बनते हैं देखो, होली में होता बड़ा कमाल।

10.

रंगों का जो भेद भुला दे, सबमें भर देता है प्यार,
दुश्मन भी लग जाते गले, ऐसा है होली का त्यौहार।

11.

जली होलिका बच गए प्रहलाद
होली की फिर हुयी शुरुआत,
सच्चाई की जीत हुयी
जीते हैं भक्ति के जज़्बात।

12.

न जीत का है, न हार का है,
होली का त्यौहार तो बस प्यार का है।

13.

होली का तुम लेकर बहाना, सबको खूब रंग लगाना,
भूल के सारे शिकवे गिले, सबको अपने गले लगाना।

14.

होली रंगों का त्यौहार है
जिसमें होती रंगों की बौछार है,
कोई साधारण सी ये रीत नहीं
इसमें बसा राधा कृष्ण का प्यार है।

15.

कुछ और नहीं है बस रंगों की बहार है होली,
प्यार मोहब्बत भाई-चारे का
सबसे बड़ा त्यौहार है होली,
बना दे दोस्त ये दुश्मन को
बोले फिर वो भी प्यार की बोली,
दिलों में अपनापन जगाता
नए रिश्तों का इजहार है होली
कुछ और नहीं है बस रंगों की बहार है होली।

16.

खुशियों की बारिश हो हर पल
हो धन की वर्षा अपार
घर में सुख-समृद्धि आये
ऐसा हो होली का त्यौहार।

17.

गोकुल का वो छोरा है, वो बरसाने की छोरी,
प्रेम रंग में रंगे हैं दोनों खेल रहे हैं होली।

होली पर शायरी संग्रह के बारे में अपनी राय जरूर दें।

पढ़िए होली से संबंधित ये बेहतरीन रचनाएं :-

धन्यवाद।

You may also like

5 comments

Avatar
One Line Hindi Thoughts May 25, 2020 - 10:48 AM

Nice Post

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh May 27, 2020 - 2:13 PM

Thank YOu One Line

Reply
Avatar
Ishal ahmad February 23, 2018 - 10:39 AM

Hello sr aap ka article padh kar bahut aacha laga thank you

Reply
Sandeep Kumar Singh
Sandeep Kumar Singh February 24, 2018 - 1:54 PM

यह जनकल हमें भी अच्छा लगा Ishal ahmad जी।

Reply
Avatar
होली मुबारक शायरी February 15, 2018 - 6:19 PM

सबसे पहले आपको और के सभी पाठको को होली की ढेर सारी बधाईयाँ
यह होली का पर्व आपके जीवन को खुशियों के रंग से रंग दे

रंगों में रंगी मस्ती हुडदंग और भाईचारे से जुड़े होली के पर्व पर बहुत ही प्यारा आर्टिकल लिखा हैं, आपने
लाज़वाब होली की शायरियों पर…
आप के इस कलेक्शन में होली के सभी रंग नज़र आते हैं

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More