युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानी | Motivational Story For Youth In Hindi

आज कल के युवा शीघ्र ही एक ही असफलता को अपनी जीवन का अंत मान लेते हैं लेकिन हम असफल तब तक नहीं होते जब तक हम प्रयास करना नहीं छोड़ देते हैं। जैसे ही हमने प्रयास करना बंद किया उसी समय हम असफल हो जाते हैं। हमारे पास पर्याप्त समय है अपने जीवन को बदलने का। फिर भी यदि हम यह कहें की हम कुछ कर नहीं सकते तो यह हमारी असफलता है। हम अपने जीवन को तभी बदल सकते हैं जब हम स्वयं पर विश्वास रखेंगे। यह भी विश्वास रखेंगे कि बदलाव समय रहते लाया जा सकता है। यही प्रेरणा दे रही है हमारी आज की यह युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानी :-

(नोट :-  इस कहानी का विडियो देखने के लिए कहानी के अंत में जाएं )

युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानी

युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानी

एक सज्जन अपने एक मित्र के निमंत्रण पर उनके स्कूल में फुटबॉल का मैच देखने गए हुए थे। निमंत्रण देने वाले सज्जन उसी स्कूल के फुटबॉल टीम के कोच थे। मैच देखने आये हुए सज्जन को थोड़ी देर हो गयी। जब वो पहुंचे तो कोच बाहर से सब खिलाडियों को हौसला दे रहे थे।

“अरे मैं ज्यादा लेट तो नहीं हुआ न? स्कोर क्या है?”

आये हुए सज्जन ने कोच से सवाल किया।

“वे हमारी टीम से 3-0 की बढ़त में हैं।“

कोच ने शांत भाव से मुस्कुराते हुए जवाब दिया और फिर से खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने लगे।

– तब तो स्थिति बहुत ख़राब है।

– ऐसा कैसे कह सकते हो तुम? मुझे अपने खिलाडियों पर भरोसा है, अभी खेल भी बाकी है और जब तक रेफरी की सीटी नहीं बज जाती कुछ भी संभव है।

कोच के मुंह से ऐसा जवाब सुन कर वो सज्जन हैरान थे। एक टीम जो हार रही है उसके कोच को अभी भी लग रहा है कि उसकी टीम जीत जाएगी।

मैच ख़त्म हुआ और कोच की टीम 5-4 से जीत गई। उन आये हुए सज्जन को विश्वास नहीं हो रहा था। कैसे एक हारती हुई टीम ने जीत अपने नाम कर ली।

ये तो थी खेल की बात लेकिन इस दुनिया में भी कई ऐसे लोग हैं जो थोड़ा सा पीछे रह जाने के कारण खुद को हारा हुआ समझने लगते हैं। अरे जब तक आपके जीवन का ये खेल चल रहा है आप हार कैसे सकते हैं?

यदि आप रास्ते में गिर गए हैं तो याद रखिये आगे बढ़ने वाला और ऊपर चढ़ने वाला ही नीचे गिरता है। जो इन्सान एक ही जगह रुक गया है वो भला जीवन में क्या करेगा। जरूरत है तो अपने अनुभव से सीखते हुए आगे बढ़ने की।

आप कोई युद्ध तभी जीत सकते हैं जब तक आप उस युद्धक्षेत्र में डटे रहेंगे। यदि आप वहां से भाग जाते हैं तो हारे हुए ही माने जाएँगे। इसलिए जरूरत है तो अपनी सोच को सकारत्मक बना कर अपने जीवन में एक बदलाव लाने का। उसके बाद आप जो भी हासिल करना चाहते हैं वो आपको हासिल होगा।

एक बाद हमेशा याद रखिये जब तक ऊपर वाला रेफरी आपके खेल समाप्ति की घोषणा नहीं करता तब तक पूरे जोश के साथ खेलते रहिये।

” युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानी ” से यदि आपको आगे बढ़ने की प्रेरणा मिली हो तो कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

पढ़िए अप्रतिम ब्लॉग पर ये प्रेरणादायक छोटी कहानियाँ :-

धन्यवाद।

qureka lite quiz

Add Comment