Home हिंदी कविता संग्रह बच्चों की कविताएँ :- मैं भी स्कूल में जाऊंगा और चलो चलें स्कूल

बच्चों की कविताएँ :- मैं भी स्कूल में जाऊंगा और चलो चलें स्कूल

by Sandeep Kumar Singh

सूचना: दूसरे ब्लॉगर, Youtube चैनल और फेसबुक पेज वाले, कृपया बिना अनुमति हमारी रचनाएँ चोरी ना करे। हम कॉपीराइट क्लेम कर सकते है

बचपन में अक्सर कुछ बच्चे स्कूल जाने से डरते हैं और स्कूल जाने के समय रोना शुरू कर देते हैं। लेकिन कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जिनमें स्कूल जाने कि उत्सुकता होती है। ऐसे ही बच्चों की भावनाओं को हमने इन कविताओं में समाहित करने का प्रयास किया है। आशा करते हैं की हम इस कार्य में सफल हुए हों। आइये पढ़ते हैं बच्चों की कविताएँ :-

बच्चों की कविताएँ

बच्चों की कवितायें

कविता 1. मैं भी स्कूल में जाऊंगा

मम्मी मुझको बस्ता ले दो
मैं भी स्कूल में जाऊंगा,
A B C D पढूंगा मैं भी
क ख ग भी पढ़ कर आऊंगा
सीखूंगा बातें नयी और
आकर सब को बताऊंगा,
मम्मी मुझको बस्ता ले दो
मैं भी स्कूल में जाऊंगा।

पढ़ लिख कर इक दिन मैं भी
नाम बहुत ही कमाऊंगा
होगा गर्व तुझे उस दिन
जब देश के काम, मैं आऊंगा,
कलाम, भगत सिंह जैसा बन कर
इस जग में मैं छा जाऊंगा
मम्मी मुझको बस्ता ले दो
मैं भी स्कूल में जाऊंगा।

आज पढूंगा मैं जो तो
कल मैं भी सबको पढ़ाऊंगा
या फिर सरहद पर जाकर
मैं देश का फ़र्ज़ निभाऊंगा,
आने वाले कल को मैं
इस देश की शान बधाऊंगा
मम्मी मुझको बस्ता ले दो
मैं भी स्कूल में जाऊंगा।

पढ़िए :- गुरु पूर्णिमा पर गुरु की महिमा बताती कविता


कविता 2. चलो चलें स्कूल

चलो चलें स्कूल कि
हमको पढ़ने जाना है,
पढ़ लिखकर आगे बढ़ना है
सफलता की सीढ़ी चढ़ना है
हम ही हैं भविष्य देश के
ये साबित कर के दिखाना है,
चलो चलें स्कूल कि
हमको पढ़ने जाना है।

पानी है शिक्षा हमको और
शिष्टाचार भी पाना है
प्रेम-भाव और भाईचारे का
सन्देश इस जग में फैलाना है,
मन में जो सपने हैं उनको
सच कर के दिखाना है
चलो चलें स्कूल कि
हमको पढ़ने जाना है।

हम ही कल के नेता हैं
डॉक्टर, इंजिनियर और अभिनेता हैं
न हारेंगे हम जीवन में
हम ही तो कल के विजेता हैं,
उठा कलम ज्ञान की हमको
इतिहास इक नया रचाना है
चलो चलें स्कूल कि
हमको पढ़ने जाना है।

पढ़िए :- किताब पर हिंदी कविता

दोस्तों आपको यह बच्चों की कवितायें कैसी लगीं ? हमें अपने बहुमूल्य विचार कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें।

( नोट :- इन कविताओं को स्कूल के या किसी अन्य समारोह में बोलने के लिए प्रयोग किया जा सकता है लेकिन किसी पत्रिका या किसी अन्य स्थान पर किसी भी रूप में प्रकाशित नहीं किया जा सकता। इन कविताओं पर मात्र अप्रतिमब्लॉग का अधिकार है। )

पढ़िए बच्चों के लिए और भी सुन्दर रचनाएं :-

धन्यवाद।

qureka lite quiz

आपके लिए खास:

1 comment

Avatar
wajid ahmad जनवरी 30, 2022 - 12:06 अपराह्न

aap ki kawitabohut acchi lagi mere bete ne is ko padhi aur bohut si panktiyan yaad kar li hain thanks

Reply

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More